रिद्धिऋद्धि के दाता श्री गणपति व धन की देवी माँ लक्ष्मी को कैसा प्रसन्न करे ll

रिद्धिऋद्धि के दाता श्री गणपति को प्रसन्न करने के सरल उपाये l 

श्री गणपति जी को रिद्धि-सिद्धि का देव व् संकट हारता भी कहा गया है l  श्री गणपति को प्रसन्न करने के बोहोत हीआसान उपाय है l

प्रति दिन रोज प्रातः नहा धो कर गणपति जी को गिन कर पांच ,ग्यारह ,या इक्कीस  दूर्वा अवश्य ही चढ़ाये । दुरवा गणपति र्जी के ललाट पर ही चढ़ाना चाहिए। कभी भी पैरो में में दुर्वा नहीं रखना चाहिए ।

दुरवा चढ़ाते समय हमेशा ही इस मन्त्र का जाप करे  ‘इदं दुर्वादलं ऊं गं गणपतये नमः’ l 

*हिन्दू  शास्त्रों  के अनुसार शम्मी ही एक ऐसा पेड़ है जिसकी पूजा अर्चना करने से गणपति जी और शनि देव  दोनों ही अति प्रसन्न हो जाते हैं।

ऐसे कहा भी जाता है कि भगवान श्री राम जी  ने भी लंका नरेश रावण पर विजय पाने के लिए शम्मी के पेड़ की पूजा अर्चना की थी।

शम्मी गणपति जी को बोहोत ही ज्यादा प्यारा है। शम्मी  के कुछ पत्र रोजाना गणपति जी को चढ़ाने से घर परिवार में सुख शांति होती है।

* भगवान गणपति जी को खुश करने के लिए  साबुत अक्षत चढ़ाये । साबुत अक्षत वह होता है  जो टूटा हुआ नहीं हो।

हमेशा कच्चे चावल यानि बिना पके अक्षत का ही पूजा पाठ में यूज़ करना चाहिये ।

*एक बात हमेशा ही ध्यान रखे की गणपति जी को खुश करने के लिए लाल सिन्दूर ही चढ़ाये l  क्युकी गणपति जी को लाल सिन्दूर की लाली बोहोत प्रिय हैl

गणपति जी को लाल सिन्दूर चढ़ाने के बाद अपने स्वय के मस्तक पर सिंदूर का टीका अवश्य ही लगाएं। इस प्रकार से गणपति जी की कृपा व् दया मिलती  है।

  • गणपति जी को मोदक के लड्डू बहुत ही पसंद  है। प्रसादी में श्री गणपति को मोदक  या मोती चूर के लड्डू का भी भोग लगाये l 

गणपति का बीज मंत्र ॐ गं गणपत्ये नमः का यथासंभव जप करे l 

ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीभयो नमः

ridhi-shidhi-ke-data-ganesh-va-dhan-ki-devi-laxshmi-ko-kaise-pressan-kare

 

धन की देवी माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के सरल उपाये l 

कहा जाता है की ईमान धरम  से पैसा कमाने वालों के साथ सदा ही देवी लक्ष्मी का आशीष रहता है l   और गलत ढंग  से कमाया हुआ पैसा जयादा वक़्त तक रह नहीं पाता।

देवी  लक्ष्मी को खुश करने के लिए आजमाए हुए सरल प्रयोग जिन्हे करके आप अपना जीवन को खुशियों से भर सकते हैं। 

* ये बात हमेशा ही ध्यान रखे की साफ़ घर में ही देवी लक्ष्मी आती है बेहतर होगा की आप अपना घर व् घर के बहार का हिस्सा हमेशा ही रोशनीदार व् साफ़ रखे l  

* संध्या  होते ही सारे  घर में बत्ती जलाकर रोशनी कर देवी  लक्ष्मी का सु – स्वागतम  करना चाहिए।

कहा जाता है की संध्या को देवी लक्ष्मी पृथ्वी लोक पर निकलती हैं जिस घर में रोशनी नहीं मिलती अथवा अँधेरा होता है वहां से  देवी लक्ष्मी रुष्ट हो जाती है और लौट जाती हैं 

* हर रोज़ मैं गेट पर या घर के अंदर कर्पूर व् गुग्गल अवश्य ही जलाना चाहिए l  ये कार्य रोज़ाना न कर सको तो कम से कम शुक्रवार ओर सोमवार के दिन जरूर से जरूर करे l  

* कभी भी बैडरूम या किचन में पूजाघर नहीं बनाना चाहिए । 

यहाँ पढ़े वास्तु शास्त्र के अनुसार कैसा हो आपका पूजाघर ll

* संध्या के समय में मैं गेट थोड़ी देर के लिए अवश्य ही खुलान चाहिए l  कहा जाता हैं की यह देवी लक्ष्मी के आने का वक़्त होता है l 

*  एक बात स्मरण रखनी चाहिए की पूजा पाठ करने के बाद तिलक व् टीका अवश्य ही लगाए l इससे बुद्धि, ज्ञान  विकसित होता हैं l देवी लक्ष्मी प्रसन्न  होती हैं । 

विशेष:-

इसलिए प्रिय पाठकों हमेशा घर का मौहाल खुशनुमा रखना चाहिये l इसी से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती है l और इन आजमाए उपायों को करके आप जीवन में रिद्धिऋद्धि के दाता श्री गणपति व धन की देवी माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करे सकते है l 

 

Leave a Comment

%d bloggers like this: