कैसे की जाये राशियों के अनुसार शिव आराधना ll

प्रिय पाठकों जैसा की हम सब जानते है की सावन का महीना भगवान भोलेनाथ को अति प्रिय है भगवान भोलेनाथ की पूजा सावन महीने में विधिवत करने से भगवान भोलेनाथ जल्दी ही आपकी मनोकामनायें पूरी करते है l

अगर सावन के महीने में भोलेनाथ जी की आराधना करने के लिए राशि अनुसार बताए गए उपायों को आजमाया जाए तो आपके सभी कष्ट दूर हो जाएंगें और भगवान भोलेनाथ भी आप से जल्दी प्रसन्‍न हो जाएंगे।

मेष 

आपको भगवान भोलेनाथ की पूजा उनके शिवलिंग स्‍वरूप में करनी चाहिए। अगर आप इस वर्ष सावन के महीने में रोज शिवलिंग पर कच्चा दूध व दही चढ़ाते हैं तो भोलेनाथ जी आप से प्रसन्‍न हो जाएंगे।

इतना ही नहीं, आपको भोलेनाथ जी का प्रिय फल धतूरा भी उन्‍हें अर्पित करना चाहिए। साथ ही घी का दीपक जलाकर भगवान भोलेनाथ की आरती करें, मनोकामना अवश्‍य पूरी होगी। 

वृषभ 

रोज सुबह ‘ओम नम: शिवाय’ मंत्र का जाप करें। साथ ही आपको भोलेनाथ पर गन्‍ने के रस से अभिषेक करना चाहिए। इसके अलावा आप शिवलिंग पर कोई भी सफेद रंग का पुष्‍प चढ़ाएं, आप मोगरे का फूल भी चढ़ा सकते हैं ।

अगर आप मंदिर जाकर शिवलिंग की पूजा नहीं कर पा रहे हैं तो आप घर पर ही भगवान भोलेनाथ की तस्‍वीर की पूजा करें। 

मिथुन 

इस राशि के जातकों को स्फटिक धातु से बने शिवलिंग की आराधना करनी चाहिए। कुमकुम, चंदन और ईत्र से आप शिवलिंग का अभिषेक करें और आंकड़े के फूल भोलेनाथ जी को अर्पित करें। सावन के महीने में अगर आप प्रतिदिन नियम से इस तरह से भोलेनाथ जी की पूजा करंगे तो फल अवश्‍य मिलेगा। 

कर्क 

भगवान भोलेनाथ को प्रसन्‍न करने के लिए इस राशि के जातकों को शिवलिंग का अष्टवगंध एवं चंदन से तिलक करना चाहिए। आपको बता दें कि भोलेनाथ जी का अष्टवगंध से तिलक करना बेहद शुभ माना गया है।

इतना ही नहीं, आपको रोज कच्चा दूध और जल शिवलिंग पर चढ़ाना चाहिए। इस राशि के जातक इस वर्ष सावन में यदि रोज भगवान भोलेनाथ को पंचामृत से स्‍नान कराते हैं तो यह बहुत ही शुभ फल देगा।

ऐसा करने से यदि कर्क राशि के जातक आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं तो उन्हें बहुत लाभ मिलेगा। 

सिंह 

कई फलों के जूस में चीनी मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक करें। साथ ही सिंह राशि वालो को भोलेनाथ जी को प्रसन्‍न करने के लिए, ‘ओम जटाधराय नम:’ मंत्र का जाप भी करना चाहिए, इससे आपको शुभ फल प्राप्‍त होंगे। 

भगवान शिव करेंगे सावन के महीने में हर मनोकामनायें पूरी ll

कन्‍या 

इस राशि के जातकों को भगवान भोलेनाथ पर बेर, धतूरा, आंकडे के फूल और भांग चढ़ाना चाहिए। ऐसा करने से आपकी जो मनोकामना है वह पूरी हो जाएगी। इसके साथ ही दूध में देसी घी मिला कर शिवलिंग का अभिषेक करें। 

तुला 

तुला राशि के जातकों को शिवलिंग पर मोगरे का फूल, बेल पत्र, चंदन और चावल अर्पित करने चाहिए।। इससे जीवनसाथी के साथ रिश्‍तों में जो कड़वाहट है, वह समाप्त होगी और आर्थिक तंगी भी समाप्त होगी। 

वृश्चिक 

इस राशि के जातकों को शिवलिंग पर शुद्ध जल चढ़ाना चाहिए और गेंदे के फूल अर्पित करने चाहिए। मसूर की दाल का दान करने से भी आपको विशेष लाभ होगा। 

धनु 

इस वर्ष सावन में किसी भी दिन आपको पके चावलों से भोलेनाथ का श्रृंगार करना चाहिए। इसके अलावा लाल कनेर के फूल भगवान भोलेनाथ को अर्पित करें। सारे कष्‍ट दूर होंगे। 

मकर 

इस राशि के जातकों को शिवलिंग को गेहूं से ढंक कर उनकी पूजा करनी चाहिए। गंगाजल में गुड़ मिला कर अगर आप भोलेनाथ का अभिषेक करते हैं तो इससे सारे कष्‍ट दूर होंगे। 

कुंभ 

शुद्ध जल में काले तिल डालकर इससे भोलेनाथ का अभिषेक करें। इतना ही नहीं,  भोलेनाथ पर धतूरे व फूल भी चढ़ाए। अगर आपको बहुत गुस्सा आता है तो वह शांत हो जाएगा। 

मीन 

पीपल के वृक्ष के नीचे बैठकर भगवान भोलेनाथ की आराधना करें। 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें और चने की दाल भोलेनाथ पर चढ़ाएं।

विशेष :-

जो भक्त इस सावन के महीने में पूरी श्रद्धा क साथ माता पार्वती और भगवान् भोलेनाथ की आराधना व् साधना करते है प्रभु उनको निश्चय ही मनोवांछित फल प्रदान करते है इसमें कोई संशय नहीं l

धार्मिक ग्रंथो में सावन की विशेष महत्ता बताई गयी है और सावन के सोमवार का भी अपना ही अलग महत्व है l

इस बार सावन 6 जुलाई से प्रारम्भ होकर 3 अगस्त पूर्णिंमा के दिन समाप्त हो रहे है

 

हिन्दू शास्त्र के अनुसार रुद्राक्ष की महिमा व नियम ll


Leave a Comment

%d bloggers like this: